IPS Success Story :- वर्ष 2012 में  इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्यूनिकेशन में बीटेक (B.Tech) करने के बाद मोहिता ने UPSC एग्जाम को.....👉

IPS Success Story :- वर्ष 2012 में  इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्यूनिकेशन में बीटेक (B.Tech) करने के बाद मोहिता ने UPSC एग्जाम को.....👉

अपना एक मात्र लक्ष्य बनाया और इसकी तैयारियों में लग गईं. बार बार चार बार असफल  होने के बावजूद भी.....👉

अपनी  हिम्मत को टूटने  नहीं दिया और अंततः 2017 में वह UPSC एग्जाम को क्लियर कर IPS बन गईं......👉

 मोहिता शर्मा कांगड़ा की मूल निवासी है, इनके के घर की आर्थिक स्थिति इतनी.....👉

ख़राब थी की घर की जरूरतों व आवश्यकताओ की पूर्ति बड़ी मुश्किल से हो पाती थी.....👉

लेकिन पिता का सपना था की बेटी को बड़ा अधिकारी बनना है.....👉

वहीं मोहिता की दृड मंछा व इच्छा थी की वो अपने पापा का सपना साकार करे.....👉

मोहिता का परिवार मूल रूप से हिमाचल के रहने वाले थे लेकिन रोजगार की तलाश में  दिल्ली में  आकर  बस गए......👉

मोहिता  की मां हाउस वाइफ हैं. मोहिता के पिता मारुति की फैक्ट्री में जॉब करते थे.......👉

सैलरी बहुत कम थी. सैलरी इतनी कम थी की घर चलाने में ही सारा पैसा खत्म हो जाता था......👉

फिर भी पिता ने अपनी बेटी की पढाई से कोई समझोता नहीं किया और मोहिता भी पिता के सपने को लेकरअपना पूरा फोकस पढ़ाई पर लगा दिया......👉

कौन बनेगा करोड़ पति में मोहिता ने अपनी जीत दर्ज कर के 1 करोड़ रूपये जीते थे......👉

मोहिता UPSC एग्जाम में 4 बार असफल रही लेकिन 5वीं बार में अपने पिता का सपना साकार कर दिखाया और......👉

 अच्छी रैंक होने के कारण इन्हें IPS की पोस्ट पर नियुक्त कर दिया